+91-89659 49968 Register    My Account

Anurag Mishra

Anurag Mishra

Shiwani – नमस्कार सर, सबसे पहले आप हमे अपने बारे में कुछ बताये?

Anurag – धन्यवाद, मेरा जन्म मध्य प्रदेश के एक कस्बे टीकमगढ़ में हुआ है | मैंने 12 वीं तक की पढ़ाई वहीं से की है और स्नातक दिल्ली यूनिवर्सिटी से किया है | यू ट्यूब पर मेरा एक चैनल है जिसका नाम ऋषि की रसोई है उस पर मैं कुकिंग एवं फूड से संबंधित वीडियोस अपलोड करता हूँ|

Shiwani – आपको लिखने के साथ और किन चीजों में रूचि है?

Anurag – लिखने के अलावा मुझे खाना बनाना, तरह-तरह के पकवान चखना, फैमिली और फ्रेंड्स के साथ वक्त बिताना और एक्सरसाइज करना पसंद है |

Shiwani – आपने अपने विशेष क्षेत्र या शैली में लिखना क्यों चुना?

Anurag – ऐसा नहीं है मेरी पहली पुस्तक अलग थी उसमें मैंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के कल्चर को दिखाया है और आज के समय के प्यार को दिखाया है | हाँ अगर हम हरदौल (एक महान शासक)की बात करें, तो मैं हमेशा से चाहता था कि बुंदेलखंड की पृष्ठभूमि पर आधारित किसी अच्छी कहानी को सभी के सामने लाया जाए और मैं चाहता हूँ कि भविष्य में इस पुस्तक को बड़े पर्दे पर फिल्माया जाए |

Shiwani – आप कब से लिख रहे हैं? और आप किस तरह का लेखन करते हैं?

Anurag – मेरे अंदर लेखन का बीज तो काफी पहले से है हाँ लिखना कॉलेज के दिनों से शुरू किया था | मैं हर प्रकार के लेखन को पसंद करता हूँ जैसे मेरी पहली पुस्तक आज के दौर की कहानी थी और दूसरी पुस्तक एक मोटिवेशनल बुक थी और तीसरी पुस्तक एक ऐतिहासिक कहानी है |

Shiwani – इस पुस्तक में आपके लक्ष्य और इरादे क्या थे, और आप उन्हें कितना अच्छा महसूस करते हैं?

Anurag – इस पुस्तक का मेरा मुख्य लक्ष्य यही था कि बुंदेलखंड के एक वीर बुंदेले राजा की कहानी को सभी के सामने लाया जाए और हाँ मुझे इस पर काम करके काफी अच्छा लगा और जरूरत पड़ी तो भविष्य में, मैं इसकी स्क्रिप्ट भी लिखूँगा |

Shiwani – क्या आप पूर्णकालिक या अंशकालिक लेखक हैं? यह आपके लेखन को कैसे प्रभावित करता है?

Anurag – मैं एक पूर्णकालिक लेखक ही हूँ और हमेशा लिखता रहूँगा, हाँ एक बात जरूर है कि तरीके बदलते रहेंगे और अब इसे अलग ढंग से आपके सामने लाया जायेगा |

Shiwani – आप कैसे लिखते हैं या लिखने के लिए समय निकालते हैं?

Anurag – लिखने के लिए बारीक ऑब्जरवेशन जरूरी है हाँ लिखने के लिए समय तो निकालना ही पड़ता है यह भी एक कार्य है जो अगर सही से सोच लिया, तो आप बहुत ऊँचाईयों तक पहुंच सकते हैं |

Shiwani – भविष्य की परियोजनाओं के लिए आपकी योजनाओं में क्या शामिल है?

Anurag – आइडियाज इतने है कि मैं हर महीने एक पुस्तक लिख सकता हूँ और यह घमण्ड की बात नहीं है इसके लिए आपको दिल से साफ होना होता है और ईश्वर पर विश्वास रखना होता है | हाँ फिलहाल पुस्तक नहीं लिख रहा हूँ लेकिन इसी क्षेत्र में किसी अच्छे प्रयास को लेकर कार्यरत हूँ जो जल्दी ही आपके साथ शेयर करूँगा |

Shiwani – लेखन समुदाय में आपकी क्या भूमिका है?

Anurag – लेखक समुदाय से बहुत प्रेम मिलता है और सबसे ज्यादा प्रेम मीडिया के लोगों से मिलता है तो बड़ी खुशी होती है एक आर्टिस्ट के लिए यही बहुत है |

Shiwani – आपको क्या लगता है कि आपके लेखन में सबसे अधिक विशेषता है? और इस पुस्तक को लिखने का सबसे कठिन हिस्सा?

Anurag – मेरे लेखन में यही खास है कि मैं लोगों से सीखता बहुत हूँ और वही मेरी लेखनी में देखने को मिल जाता है और मैं अभी बहुत छोटा सा लेखक हूँ जो अपनी खुशी के लिए लिखता है | एक बात और है मैं गलतियाँ बहुत करता हूँ ताकि लोग मेरी आलोचना करते रहें, मैंने एक बात देखी है लोग दूसरों में गलतियाँ बहुत निकालते हैं और अगर उनको खुद की गलती बताओ तो उन्हें बहुत बुरा लगता है जोकि होना नहीं चाहिए | और अगर मेरी एक भी पुस्तक नहीं बिकेगी तो भी मैं किसी-न-किसी तरीके से लिखता रहूँगा | इस पुस्तक को लिखने का कठिन पार्ट यही था कि जमीनी खोज करनी पड़ी और इतिहास को जानना पड़ा |

Review Anurag Mishra.

Your email address will not be published. Required fields are marked *