Pratinidhi Kavitaaen, By( Satya Vrat Singh)

195.00

‘प्रतिनिधि कविताएं’ साहित्यकार सत्यव्रत सिंह की चुनी हुई 121कविताओं का संकलन है। ये कविताएं उनके लगभग सात दशक लंबे साहित्यिक जीवन में विभिन्न काल खंडों में लिखी गई हैं। इस पुस्तक से उनके संपूर्ण साहित्यिक जीवन का परिचय मिलता है।

  • Publisher ‏ : ‎ Booksclinic Publishing 
  • Language ‏ : ‎ Hindi
  • ISBN-13 ‏ : ‎ 9789355358547
  • Reading Age ‏ : ‎ 3 Years And Up
  • Country Of Origin ‏ : ‎ India
  • Generic Name ‏ : ‎ Book

100 in stock (can be backordered)

SKU: book1566BCP Categories: , , ,

Description

“साहित्यकार सत्यव्रत सिंह ने स्वांत: सुखाय हिंदी साहित्य की सेवा की है। उन्होंने अपने सात दशक लंबे साहित्यिक जीवन में साहित्य की सभी विधाओं पर लेखनी चलाई है। बिना किसी सम्मान और यश की आशा के वे अपनी मृत्यु पर्यंत 2016 तक साहित्य की सेवा करते रहे। उन्होंने अपनी पहली कविता मात्र चौदह वर्ष की आयु में 1946 में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस पर ‘तुम्हीं थे सबसे उच्च महान शीर्षक से लिखी थी। उनका पहला कविता-संग्रह 1957 में ‘एक एक अलग अलग प्रकाशित हुआ था। 2022 में उनकी आत्मकथा ‘दो पीढ़ियां सौ सीढ़ियां’ प्रकाशित हो चुकी है। वे अपने पीछे स्वरचित हिंदी साहित्य का विशाल भंडार छोड़ गए हैं जो कि अप्रकाशित पांडुलिपियों के रूप में सुरक्षित है। ‘प्रतिनिधि कविताएं’ उनकी सोलहवीं प्रकाशित पुस्तक के रूप में आपके समक्ष है। यह उनके लंबे साहित्यिक जीवन का परिचय कराती हुई 121 कविताओं का संकलन है। इसमें उनके द्वारा विभिन्न काल खंडों में लिखी गई कविताओं को संकलित किया गया है। आशा है साहित्यकार के इस कालजयी लेखन को पाठकों का सम्मान प्राप्त होगा।

Additional information

Dimensions 5 × 8 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.