Anjani kumar Ankur ki samakalin laghukathaen by (Anjani Kumar Ankur)

150.00

यह किताब स्व अंजनी कुमार अंकुर जी की चुनिंदा लघुकथाओं का संकलन है जिसे मेरे द्वारा संकलित व संपादित किया गया है।

  • Publisher ‏ : ‎ Booksclinic Publishing (31 October 2022)
  • Language ‏ : ‎ Hindi
  • Paperback ‏ : ‎ 93 pages
  • ISBN-13 ‏ : ‎ 9789355356314
  • Reading age ‏ : ‎ 3 years and up
  • Country of Origin ‏ : ‎ India
  • Generic Name ‏ : ‎ Book

100 in stock (can be backordered)

SKU: book1350BCP Category:

Description

“सम्पादक परिचय

आनंद सिंघनपुरी
जन्म – 1 जनवरी सन् 1989
जन्म स्थान – छत्तीसगढ़ प्रान्त के रायगढ़ जिले के महानदी के समीपस्थ बसा सिंघनपुर गाँव के सम्पन्न मालगुजार(गौंटिया ) परिवार में |
पिता – स्व.श्री अनूप कुमार
माता- श्रीमती सावित्री
शिक्षा- बी.फार्मेसी, एम.एससी (रसायन शास्त्र), एम.ए.(हिंदी,अंग्रेजी),पीजीडीसीए, पीडीसीआर, पीसीपीव्ही।वर्तमान में उच्च अध्ययन जारी|
प्रकाशन – विभिन्न राष्ट्रीय व प्रदेश स्तरीय पत्र- पत्रिकाओं में कविताएँ ,आलेख,वेब पटल पर रचनाएँ तथा अन्य विधा की रचनाएँ
काव्य/कहानी संग्रह –
एकल काव्य संग्रह : आनंद सिंघनपुरी की कविताएँ (2009),काव्य तरंग-अनुपम(2019),दिल की आहट(2021)
छत्तीसगढ़ी गीत संग्रह: गोठ बोली अउ भाखा के (प्रकाशनाधीन)
साँझा संकलन: सृजन गुच्छ द्वितीय (2018), साहित्य समर्पण (2019), समकालीन बाल कथाएँ (2021)
संकलन व सम्पादन – शंभूलाल शर्मा ‘वसंत’ की छत्तीसगढ़ी शिशुगीत- मैना के गउना (2020)
अनुवाद – मोर मयारू गीत (छत्तीसगढ़ी)
सम्मान – विभिन्न प्रतिष्ठित साहित्यिक व सामाजिक संस्थाओं से प्रशस्ति पत्र व सम्मान
सम्प्रति – स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत व सामाजिक कार्य,स्वतंत्र अध्ययन व लेखन
स्थायी पता – आनंद सिंघनपुरी पुत्र स्व.श्री अनूप कुमार गौंटिया
ग्राम-सिंघनपुर,पोस्ट-पासीद,तहसील-सारंगढ़,जिला- रायगढ़(छ.ग.)496445
सम्पर्क सूत्र – 9993888747,8770192735
अणु डाक – Spurianand4@gmail.com

सनत

जन्म : 8 अक्टूबर सन् 1964 को रायगढ़ छत्तीसगढ़ में ।योग्यता : एम. ए. (हिन्दी) , विधि व पत्रकारिता प्रशिक्षित ।
कृति : अभिषेक को लग गया चश्मा (बालकथा संग्रह) तथा कुछ सम्पादित पुस्तकें । अनेक पुस्तकों के भूमिका लेखक ।
प्रकाशन : देश के प्रमुख प्रतिष्ठित साहित्यिक पत्रिकाओं व समाचार पत्रों में सैकड़ों गद्य – पद्य रचनाओं को स्थान ।
प्रसारण : लगभग एक दर्जन सीडी कैसेट एलबमों सहित यू ट्यूब चैनल और फिल्म में हिन्दी – छत्तीसगढ़ी गीत व संवाद लेखन । ‘ चंदा रे ‘ गीत अधिक वायरल । सुप्रसिद्ध गायक नितिन दुबे के स्वर में । कविताएँ एवं वार्ता स्वयं के स्वर में आकाशवाणी के रायगढ़ व अम्बिकापुर केन्द्रों से प्रसारित ।
विशिष्ट सम्मान व प्रशस्ति पत्र : युकस , ग्राम्य भारती , छत्तीसगढ़ी साहित्य परिषद् , छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग , मुक्तिबोध रचना शिविर राजनांदगाँव सहभागिता प्रमाण पत्र , युवा संकल्प संगठन , नयी पीढ़ी की आवाज़ । पत्रकारिता के क्षेत्र में भी सम्मानित ।
अन्य रुचियाँ : अध्ययन , रेखाचित्र एवं कैलीग्राफी ।
सम्प्रति : स्वतंत्र लेखन व सम्पादन । साहित्य सेवा । अनेक संस्थाओं से सम्बद्ध ।
सम्पर्क : ऋतु साहित्य निकेतन , जूटमिल थाना के पीछे बगल गली , हनुमान मंदिर के पास , रायगढ़ (छ.ग.)
पिन : 496001 ,
चलित दूरभाष : 07067643452
अणुडाक : writerskc64@gmail.com

Additional information

Dimensions 5.2 × 8.2 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Anjani kumar Ankur ki samakalin laghukathaen by (Anjani Kumar Ankur)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *